एक करोड़ के रंगदारी की मांग, नीरज बावनिया गिरोह के 3 सदस्य गिरफ्तार

बाहरी दिल्ली।  बाहरी जिला पुलिस के स्पेशल स्टाफ ने नीरज बावनिया गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफत किया है। विकास फौजी , रवि दरियापुर और सुनील नाम के ये तीनो बदमाश सन्नोट के प्रसिद्ध दाल कारोबारी से एक करोड़ रुपये की फिरौती की मांग कर रहे थे।  इन्होने कारोबारी गिरिधर आनंद को फिरौती के लिए फोन किया और फिर इन्होने  5 -6 नवम्बर की रात को उसे डराने के लिए मिल के बहार उस पर गोली चलाई।  कारोबारी की शिकायत पर पुलिस ने इन्हे गिरफ्तार कर लिया है। विकास फौजी , रवि दरियापुर , और सुनील नाम के ये तीनो आरोपी बाहरी दिल्ली के घेवरा , दरियापुर , और सुल्तान पूरी इलाके के रहने वाले है। पुलिस ने इनके कब्जे से एक सेंट्रो कार और तीन देश रिवाल्वर व पांच जिन्दा कारतूस बरामद किये है।
इन पर कई मुकदमें चल रहे है।  इन आरोपियों में विकास को बाहरी जिला पुलिस नीरज के विरोधी गिरोह के सदस्य प्रदीप भोला पर रोहिणी कोर्ट में ही गोली चलने के प्रयास में पकड़ा है।  बाहरी जिला पुलिस उपयुक्त विक्रमजीत सिंह ने बताया की विकास उस समय कोर्ट में फाइल में रिवाल्वर दबाकर लिए गया था।  बाद में प्रदीप भोला की नीरज और उसके साथियों ने जेल वैन में ही हत्या कर दी थी।  बाहरी जिला पुलिस  इन गिरफ्तार के रंगदारी वसूलने की कोशिस को बेशक रोक लिया है लेकिन छोटी उम्र की इन लड़कों को देख कर यह अंदाजा लगना मुश्किल नहीं है की बाहरी दिल्ली में नीरज बावनिया गिरोह से नए नए लोग जुड़ते जा रहे है

 

Comments are closed.