एकता, अखंडता को नुकसान पहुँचाने वाले को बख्शेंगे नहीं: केंद्र

कानपुर  केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज स्पष्ट शब्दों में कहा कि देश की एकता, अखंडता को खंडित करने वाले किसी भी तत्व को बख्शा नहीं जाएगा, फिर चाहे वह कोई भी हो। कानपुर देहात जिले के माती में एक रैली के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत में गृह मंत्री ने कहा, ‘‘मसर्रत आलम हो, या कोई और, मैं देशवासियों को इस बात का विश्वास दिलाना चाहता हूं कि भारत की अखंडता और एकता को खंडित करने का प्रयास करने वालों को किसी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।’’ राजनाथ ने कहा, ‘‘कोई भी, देशद्रोही गतिविधियों में लिप्त पाया जाता है तो उसे, बख्शा नहीं जाएगा और न ही माफ किया जाएगा।’’ पत्रकारों ने जब केन्द्रीय गृहमंत्री से पूछा कि कश्मीर में अलगाववादी नेताओं की रैली के दौरान ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ और ‘हाफिज सईद जिंदाबाद’ जैसे देशविरोधी नारे कैसे लगे, उन्होंने कहा, ‘‘जम्मू-कश्मीर सरकार को भी शायद रैली में ऐसी हरकतों की उम्मीद नहीं थी। उन्हें वहां पाकिस्तान समर्थक नारे लगाने जाने का भी अंदेशा नहीं रहा होगा।’’ उन्होंने मसर्रत आलम की गिरफ्तारी के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद को बधाई भी दी। उनसे जब पूछा गया कि पाकिस्तान में हमेशा भारत विरोधी गतिविधियां होती रहती हैं, जैसे लखवी की रिहाई, ऐसे में देश इस्लामाबाद को कोई कड़ा संदेश क्यों नहीं देता? गृहमंत्री ने गंभीरता से कहा, ‘‘पाकिस्तान हमारा पड़ोसी राष्ट्र है। हम उसे समय-समय पर कड़ा संदेश देते हैं, लेकिन साथ ही पड़ोसी होने के नाते उससे बेहतर संबंध भी बनाए रखना चाहते हैं। जब भी वह भारत विरोधी गतिविधियों में लिप्त होता है, हम उसे कड़ा संदेश देते रहते हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आप यह कतई न समझें कि पाकिस्तान ऐसी हरकतें करता रहेगा और हम उसे कड़ा संदेश नहीं देंगे।’’

 

Comments are closed.