आमिर खान का नया शगूफा

नई दिल्ली मिस्टर परफेक्सनिस्ट के रूप में विख्यात अभिनेता आमिर खान हाल ही में अपनी नई फिल्म ‘पीके’ के एक पोस्टर को लेकर विवादों में रहे। इस पोस्टर में वह रेल पटरी पर एक ट्रांजिस्टर के साथ निर्वस्त्र खड़े दिखे। बॉलीवुड के किसी भी अभिनेता का यह पहला निर्वस्त्र पोस्टर था। इस पोस्टर को लेकर आमिर खान की काफी आलोचना हुई और विवाद इतना बढ़ा कि यह मामला संसद में भी उठाया गया। यही नहीं मामला अदालत में भी चला गया है और मुंबई की एक दीवानी अदालत ने आमिर खान से उस याचिका पर जवाब दाखिल करने को कहा है जिसमें उनकी फिल्म ‘पीके’ के पोस्टर और प्रदर्शन पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है। यह मामला पिछले दिनों सु्प्रीम कोर्ट में भी गया था तब न्यायालय ने फिल्म ‘पीके’ में कथित रूप से अश्लीलता को बढ़ावा देने और धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप के कारण इसके प्रदर्शन पर प्रतिबंध लगाने से इंकार करते हुए कहा कि ‘कला और मनोरंजन’ में धर्म को आड़े नहीं लाया जाना चाहिए और जिसे यह पसंद नहीं वह फिल्म नहीं देखे। लेकिन इस निर्णय के बाद भी देश भर में लोग अलग-अलग तरीकों से इस पोस्टर का विरोध करते दिखे।

अपने सामाजिक कार्यों से जनता का मन मोहने वाले आमिर का ऐसे विवादों में पड़ना निश्चित तौर पर उनकी इमेज को प्रभावित करेगा। लेकिन वह लगता है कि विवादों से ज्यादा प्रभावित नहीं हो रहे हैं क्योंकि उन्होंने ‘पीके’ के विवादित पोस्टर जैसा स्टाइल अपनाने की चुनौती सलमान खान को दे डाली है। ‘पीके’ का हाल ही में दूसरा पोस्टर रिलीज किया गया जिसमें वह पूरे कपड़ों में वाद्ययंत्र के साथ नजर आ रहे हैं। अश्लील पोस्टर विवाद पर कुछ जानकारों का कहना है कि यह सब मात्र फिल्म को पब्लिसिटी दिलाने के लिए है। लेकिन जब आमिर खान जैसे संजीदा अभिनेता पब्लिसिटी के लिए ऐसे काम करेंगे तो अन्य कलाकारों से क्या उम्मीद की जानी चाहिए।

इस पोस्टर को लेकर पहला विवाद अभी थमा भी नहीं था कि एक दूसरा विवाद खड़ा हो गया। आरोप लगा कि यह पोस्टर एक विदेशी म्यूजिक एलबम के पोस्टर की हूबहू नकल है। सोशल साइटों पर प्रसारित पोस्टर में दिखाया गया कि पुर्तगाली म्‍यूजिशियन क्‍यूम बैरियर्स ने 1973 में इसी तरह का एक पोस्‍टर लांच किया था, जिसमें वह निर्वस्त्र होकर एक अकॉर्डियन से अपने निजी अंगों को ढंके हुए थे। ‘पीके’ के पोस्‍टर में भी आमिर खान निर्वस्त्र हैं और एक ट्रांजिस्टर से अपने निजी अंगों को ढंके हुए हैं। ऐसा नहीं है कि आमिर पर आइडिया चोरी करने का आरोप पहली बार लगा हो इससे पहले ‘धूम-3’ के पोस्‍टर के बारे में भी कहा गया था कि वह हॉलीवुड मूवी ‘डार्क नाइट’ की नकल है।

आमिर ने इससे पहले जो नये प्रयोग किये उसके लिए उनकी खूब तारीफ हुई। मसलन ‘लगान’, ‘गजनी’ और ‘जाने तू या जाने ना’ में उनके द्वारा किये गये नए प्रयोगों ने उन्हें काफी ख्याति दिलाई। हालिया विवादों के बावजूद आमिर कहते हैं कि वह कॉमन सेंस से काम करते हैं और जो उन्हें उत्साहित करे उसी प्रोजेक्ट को हाथ में लेते हैं। वह कहते हैं कि मुझे चीजें करने और पकाने में थोड़ा वक्त लगता है। मैं उत्साह में काम करता हूं। आर्थिक फायदे के बारे में सोचकर किसी प्रोजेक्ट को हाथ में नहीं लेता।

Comments are closed.