अपराधियों ने बैंक का लॉकर तोड किया चोरी का प्रयास

जमुई। अज्ञात चोरों ने सोमवार की मध्य रात्रि को चकाई प्रखंड स्थित बिहार ग्रामीण बैंक कियाजोरी की दीवार तोडकर बैंक के अंदर घुसकर चोरी करने का प्रयास किया। चोरों ने बैंक में लगा ग्रील को भी तोड दिया। परंतु इसमें चोरों को कोई सफलता नहीं मिली। प्राप्त जानकारी के अनुसार चोर पहले दिवार काटकर अंदर घुस गया और स्ट्रॉग रुम का हेंडिल का कुडी तोडकर अंदर प्रवेष कर गए। चोरों ने तिजोरी का ताला तोडने का पुरा प्रयास किया गया मगर तिजोरी का ताला नहीं टूटने के कारण उसमें रखा चार लाख तैंतीस हजार छह सौ तीरपन रुपये चोरों के हाथ लगने से बच गया। लेकिन इस तोडफाड में तिजोरी क्षतिग्रस्त हो गई। वहीं बैंक का सारा कंप्यूटर और कागजात सही सलामत पाये गये। कुछ कागजातों को तीतर-वितर कर दिया गया था। ग्रामीणों द्वारा इसकी सूचना शाखा प्रबंधक जयप्रकाष वर्णवाल को दिया गया। इधर चैकीदार द्वारा चोरी की सूचना चकाई थाने को दी गयी। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे शाखा प्रबंधक, केषियर एंव थानाध्यक्ष के समक्ष बैंक के मुख्य द्वार का ताला खोला गया। बैंक में प्रवेष कर पहले जांच की गयी कि चोर स्ट्रोंग रुम में कैसे पहुंचा। जांचोपरांत पता चला कि बैंक के मध्य भाग में लगे ग्रील का ताला तोडकर चोर स्टोर रुम में लगे दरवाजे का कुडी तोडकर लोकर स्टोर रुम में पहुंचकर लोकर को तोडने का पुरा प्रयास किया गया मगर चोरों को लॉकर का ताला तोडने में सफलता नही मिली। इस कारण बैंक का सारा रुपया कागजात और कंप्यूटर मषीन बच गया।चकाई थानाध्यक्ष उपेंद्र कुमार अपने दलबल के साथ कई घंटो तक चोरी की घटना का मामला दर्ज कर तहकीकात करते रहे। समाचार लिखे जाने तक कहीं से कोई चोरी का सुराग नहीं मिल पाया है।जिस तरह से आये दिन बैंकों में डकैती और चोरी हो रही है इस पर लगाम नही लगाया गया तो डकैती करने वाले लोेगों की मंसूबा परवान पर चढी रहेगी और डकैती का अंजाम देते रहेगें।

Comments are closed.