Monday, May 27, 2024
Homeअपनी पत्रिका संग्रहसतीश कौशिक का निधन, गुरुग्राम में ली अंतिम सांस

सतीश कौशिक का निधन, गुरुग्राम में ली अंतिम सांस

मशूहर अभिनेता और फिल्म निर्माता सतीश कौशिक का बुधवार को 66 साल की उम्र में निधन हो गया। सतीश कौशिक एक भारतीय अभिनेता, निर्देशक, निर्माता, कॉमेडियन और पटकथा लेखक थे। वह नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा एंड फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के पूर्व छात्र थे और उन्होंने थिएटर में अपना करियर शुरू किया था। उन्होंने ‘मिस्टर इंडिया’, ‘दीवाना मस्ताना’, ‘साजन चले ससुराल’ जैसी कई फिल्मों में काम किया। उन्होंने ‘रूप की रानी चोरों का राजा’, ‘प्रेम’, ‘हम आपके दिल में रहते हैं’ और ‘तेरे नाम’ जैसी फिल्मों का निर्देशन भी किया है।

सतीश कौशिक ने आखिरी बार ट्वीटर पर होली सेलिब्रेशन की कुछ तस्वीरें शेयर की थीं। इन तस्वीरों में सतीश कौशिक जावेद अख्तर,  ऋचा चड्ढा  और अली फैजल के साथ मस्ती के रंग में डूबे नजर आ रहे हैं। सतीश कौशिक ने मुस्कुराती तस्वीरों के साथ लिखा था, ‘रंगीन खुशी मस्ती जानकी कुटीर जुहू में होली पार्टी जिसे जावेद अख्तर और शबाना आजमी ने होस्ट किया…नए शादीशुदा जोड़े अली फैजल और रिचा चड्ढा से भी मिले…सभी को होली की बधाई।

रिपोर्ट्स के मुताबिक सतीश कौशिक की अचानक तबीयत ख़राब हो गई थी,  जिसके बाद उन्हें गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल में एडमिट कराया गया था। उनके निधन पर सिनेमा जगत सहित विभिन्न क्षेत्रों से शख्सियतों ने शोक जताया है। सतीश कौशिक का जन्म 13 अप्रैल 1956 को हरियाणा के महेंद्रगढ़ में हुआ था। स्कूली पढ़ाई दिल्ली में हुई थी। किरोड़ीमल कॉलेज से ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में एडमिशन लिया था। 1985 में उन्होंने शशि कौशिक से शादी की थी। 2 साल की उम्र में उनके बेटे का निधन हो गया था।

सतीश ने 1983 में बॉलीवुड में कदम रखा। इससे पहले उन्होंने थिएटर में काम किया था। वे अभिनेता, कॉमेडियन, स्क्रिप्ट राइटर, निर्देशक और निर्माता थे। सतीश को पहचान 1987 में फिल्म मिस्टर इंडिया से मिली थी। इसके बाद उन्होंने 1997 में दीवाना-मस्ताना में पप्पू पेजर का किरदार निभाया था। सतीश को 1990 में राम लखन के लिए और 1097 में साजन चले ससुराल के लिए सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेता का फिल्म फेयर पुरस्कार मिला था

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments