‘पूछो’ एप से जुड़ेंगे 90 हजार आॅटो रिक्शा

नई दिल्ली। ऑटोरिक्शा के इंतजार में होने वाली समय की बर्बादी और किराये को लेकर चालक से बहस अब बीते दिनों की बात हो जाएगी। दरअसल, दिल्ली सरकार के परिवहन विभाग ने शहर में चलने वाले सभी 90 हजार ऑटोरिक्शा को ‘पूछो’ नामक मोबाइल एप्लीकेशन (एप) से जोड़ने का निर्णय लिया है। इसके बाद आप कहीं से भी किसी भी समय मोबाइल एप के जरिये ऑटोरिक्शा मंगवा सकेंगे। परिवहन मंत्री गोपाल राय 22 अक्टूबर को इस सुविधा का शुभारंभ करेंगे। राय ने बताया कि एप को ऑपरेट करने की जिम्मेदारी दिल्ली सरकार ने दिल्ली इंटीग्रेटेड मल्टी-मॉडल ट्राजिट सिस्टम (डिम्ट्स) को दी है। डिम्ट्स सभी 90 हजार ऑटोरिक्शा को इससे जोड़ेगी। दिल्ली सचिवालय में गुरुवार को इस मुद्दे पर दिल्ली के सभी ऑटो यूनियन के सदस्यों से परिवहन मंत्री गोपाल राय ने मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने उनकी राय ‘पूछो’ मोबाइल एप के बारे में ली। साथ ही संबंधित अधिकारियों को इस बारे में उचित कार्रवाई करने का आदेश दिया। गोपाल राय ने बताया कि एप को लाने का मकसद यह है कि कोई भी यात्री, जिसके स्मार्टफोन में एप सुविधा है, वह उसके जरिये जान सकेगा कि उसके आसपास कौन सा ऑटो उपलब्ध है। साथ ही उस ऑटो चालक का मोबाइल नंबर भी वहा उपलब्ध होगा। इस पर वही ऑटो दिखेंगे जिसमें जीपीएस (ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम) लगा होगा। एप को अपडेट करने का काम शुरू हो गया है। विभाग ने सभी ऑटो चालकों से अपने सही मोबाइल नंबर उपलब्ध कराने को कह है। राय ने बताया कि एप के जरिये यात्री अपना फीडबैक भी दे सकेंगे। फिलहाल इससे ऑटोरिक्शा को जोड़ा जाएगा। बाद में सिटी टैक्सी स्कीम के तहत जारी होने वाले परमिटधारियों को भी इससे जोड़ा जाएगा। राय ने कहा कि परिवहन विभाग एप के जरिये यात्रा के लिए मना करने वाले ऑटो चालकों पर नजर रखेगा। साथ ही ज्यादा किराया लेने वाले चालकों की निगरानी होगी। मालूम हो कि राजधानी में मोबाइल एप आधारित टैक्सी सेवा प्रदान करने वाली निजी कंपनी उबर, ओला व अन्य कुछ कंपनियां जिस तरह अवैध रूप से चल रही हैं, ऑटो चालक लंबे समय से सरकार को ऑटोरिक्शा को भी एप से जोड़ने की मांग कर रहे थे।

Comments are closed.