शरद के विवादास्पद बयान पर पार्टी ने मांगी माफी

नई दिल्ली। जनता दल यूनाइटेड (जदयू) अध्यक्ष शरद यादव के राज्यसभा में दिए विवादास्पद बयान के बाद मचे तूफान को थामने के लिए आज पार्टी को माफी मांगना पड़ा । इस बारे में जदयू के प्रवक्ता केसी. त्यागी ने कहा कि अगर शरद यादव के बयान से किसी महिला को ठेस पहुंची है, तो पार्टी इसके लिए माफी मांगती है। हालांकि शरद यादव का बचाव करते हुए पार्टी ने कहा कि उनकी मंशा किसी को ठेस पहुंचाने की नहीं थी ।
गौरतलब है कि एक दिन पहले राज्यसभा में बीमा विधेयक में सीधे विदेशी निवेश (एफडीआई) पर बहस के दौरान शरद यादव ने महिलाओं के रंग पर बोलना शुरू कर दिया । शरद ने कहा कि दिल्ली गैंगरेप पर डॉक्यूमेंट्री बनाने वाली लेस्ली उडविन गोरी हैं, इसलिए उन्हें डॉक्यूमेंट्री शूट करने की इजाजत आसानी से मिल गई । शरद यादव ने दक्षिण भारत की महिलाओं के बारे में भी विवादित बातें कही ।
जब शरद बोल रहे थे तब वहां मौजूद सभी दलों के सांसद इस पर हंस रहे थे, किसी पुरुष सांसद ने आपत्ति नहीं जताई । सिर्फ द्रमुक सांसद कनिमोरी उनके बयान से नाराज नजर आईं और उन्होंने आपत्ति जताई । शरद यादव के इस बयान पर सोशल मीडिया में तीखी प्रतिक्रिया हुई है। इसमें शरद के बयान की काफी आलोचना हो रही है। यह पहला मौका नहीं है जब शरद यादव ने महिलाओं पर अभद्र टिप्पणी की है। वह पूर्व में भी ऐसे बयान कई बार दे चुके हैं ।

Comments are closed.