कांट्रेक्टर कंपनी की कमीशन खोरी , नगर निगम डाटा एंट्री ऑपरेटरस को नहीं मिल रहा पूरा वेतन

उत्तरी दिल्ली नगर निगम में लगभग 680 डाटा एंट्री ऑपरेटर के पद पर नियुक्त कर्मचारियों  को पूरा वेतन नहीं दिया जा रहा है,जिसे लेकर इनमें आक्रोश है . इन्हें कॉन्ट्रैक्ट पर नियुक्त करने वाली कंपनी NIELIT  डाटा एंट्री ओपरेटर का शोषण कर रही है, निगम में कर्मचारी 9-10 साल से निगम में अपनी सेवायें दे रहे है, उनका वेतन कंपनी काटकर देती है, इनका कहना है की थर्ड पार्टी के शामिल होने से इन्हें पूरा वेतन नहीं मिल पा रहा , यही नहीं वेतन डेढ़ महीने विलम्ब से भी दिया जाता है , डाटा एंट्री ओपेरटरस का इतने कम वेतन में गुजारा करना और परिवार का पेट पालना  बहुत मुश्किल है. इनकी मांग है की निगम सीधे अपने अंतर्गत इनकी नियुक्ति को लेकर  बिचौली कंपनी कोदिया जाने वाला कॉन्ट्रैक्ट  ख़त्म  करे. इससे निगम की  सालाना तीन करोड़ से ज्यादा  की राशि बचेगी जो कम्पनी या एजेंसी कमीशन काट लेती है.. इससे न सिर्फ एमसीडी को फायदा होगा बल्कि डाटा एंट्री ऑपरेटरस को भी पूरा वेतन मिल सकेगा.

Comments are closed.