अप्रैल के माह में मिल रहा है मई- जून का मज़ा, लोग डिहाइड्रेशन और डायरिया से हो रहे पीड़ित

आपने बेमौसम बारिश के बारे में तो सूना ही होगा, लेकिन बेमौसम गर्मी ने दिल्ली के लोगों के पसीने छुड़ा दिए हैं। अप्रैल के महीने से ही राजधानी में हो रही है मई जून जैसी भीषण गर्मी, लोग घरों से बहार नहीं निकल पा रहे और गर्मी के चलते लोग डिहाइड्रेशन और डायरिया के शिकार हो रहें है। 
सूत्रों के अनुसार ये गर्मी का मौसम लम्बा होने के आसार नज़र आ रहे हैं और इससे आने वाले समय में काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। 
बड़ती गर्मी के कारण लोगों को कई प्रकार की बीमारियां होने का खतरा है, डॉकटरों के अनुसार गर्म लू और बड़ती तपिश के चलते ब्रेन में इन्फेक्शन हो जाता है, जिससे बॉडी की हीट लूज़ होती है और लू के शिकार हो जाते हैं।
इस तपिश से बचने के लिए दिल्ली वालों को अभी से पूरी तरह सचेत रहना पड़ेगा।  सुबह होते ही गर्मी का कहर राजधानी में पूरी तरह फ़ैल जाता है और फिर शाम तक दिल्ली के दिलवाले इस गर्मी में झुलसते रहते हैं। 
मौसम विभाग के अनुसार कुछ ही दिनों में पारा 40 डिग्री के आस पास पहुंचने के आसार भी नज़र आ रहे है।  साल 2010 से अभी तक इन दिनों में इतना ज़्यादा टेम्प्रेचर दिखने को नहीं मिला।  अब देखना ये है की इस गर्मी से बचने के लिए दिल्ली वाले क्या करते है।  
 
तेज़ धूप से हो सकती है ये बीमारियां, बचाव ज़रूरी –
तेज़ धूप और लू के चलते कई तरह की बिमारिओं का सामना करना करना पड़ सकता है, ब्रेन इन्फेक्शन, लू लग कर बुखार,  डिहाइड्रेशन, डायरिया और आँखों में ड्राइनेस और इन्फेक्शन का भी खतरा हो सकता है। लम्बे समय तक गर्मी में रहने से बॉडी की हीट लूज़ होती है जिससे मेकनिज़म काम नहीं करते और लोग लू के शिकार हो जाते हैं।  लू का असर बॉडी ऑर्गन्स पर भी पड़ता है।  डॉकटरों का कहना है कि डिहाइड्रेशन और डायरिया के फैलने की आशंका सबसे ज़्यादा होती है क्यूकि गर्मी की वजह से बॉडी से पसीना अधिक मात्रा में निकलता है। 
 
 कैसे करें बचाव- 
 
गर्मियों में स्वास्‍थ्‍य संबंधी कई परेशानियां होती है। गर्मियों के आते ही एलर्जी, घमौरियां, सनबर्न जैसी कई बीमारियां होने लगती हैं। ऐसे में जरूरी है कि गर्मी के मौसम में सुबह का नाश्ता ऐसा किया जाए जो पौष्टिक हो। साथ ही गर्मियों में हेल्थ टिप्स अपनाना भी जरूरी है जिससे न सिर्फ एलर्जी से बचा जा सकता है बल्कि हेल्दी भी रहा जा सकता है। आइए जानें गर्मियों के हेल्थ टिप्स के बारे में।

– गर्मियों में स्वस्थ रहने के लिए जरूरी है कि आप अधिक से अधिक लगभग 13-14   गिलास पानी पिएं।

– सुबह नाश्ता ऐसा हो जो लाइट व हेल्दी हो।

– पूरे दिन में सादे पानी के साथ-साथ नींबू पानी भी पिएं।

– दोपहर का खाना टाइम पर खायें और हल्का करें, जिससे आपको गर्मी भी कम लगे और खाना पचने में भी आसानी हो।

– तैलीय खाद्य पदार्थों को कम से कम खाएं और ताजे फलों व ताजे जूस को खूब पीएं।

– सुबह-सुबह स्नान करने और टहलने से भी आपमें चुस्ती-फुर्ती रहती है।

– गर्मी में धूप में कम से कम बाहर निकलें। यदि धूप में निकलना हो तो अपनी आंखों और स्किन को धूप से बचाएं जिससे आप एलर्जी और सनबर्न जैसी परेशानियों से बच सकें।

– बाहर से आते ही एकदम से ठंडा-ठंडा पानी न पीएं।

–  दही, छाछ या मीठे शर्बत का सेवन समय-समय पर करते रहें या फिर पानी में ग्लूनकोज डालकर भी ले सकते हैं।

– गर्मी के मौसम में तरबूज, संतरे, मौसंबी, केला, हरी ककड़ी आदि खाना अच्छा रहता है।

– रात के खाने के बाद तुरंत न सोएं बल्कि कुछ देर अवश्य टहलें।

– गर्मियों में प्याज का सेवन अधिक करें और अपने साथ बाहर भी लेकर जाएं, इससे आप लू से बच सकेंगे।

इस तरह से आप न ही सिर्फ गर्मी से बच सकते है बल्कि खुद को चुस्त दुरुस्त और तंदरुस्त रख सकते हैं और इस तमतमाती गर्मी में भी अपनी त्व‍चा में निखार ला कर खूबसूरत और निखरी त्वचा के मालिक बन सकते हैं।   

Comments are closed.