हनुमान जयंती पर प्रसाद वितरण से पूर्व कन्या पूजन किया

हनुमान जयंती महोत्वस का समापन शुक्रवार को प्रसाद वितरण के साथ धूमधाम से हुआ। पिछले एक सप्ताह से आफिसर्स कालोनी में स्थित श्री हनुमान मंदिर में जारी श्री हनुमान चालीसा के अखंड पाठ का समापन यज्ञ में पूर्ण आहुति के साथ ही हुआ। प्रसाद वितरण से पूर्व कन्या पूजन किया गया।
हनुमान जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में जिला सचिवालय, जिला न्यायालय के उच्चाधिकारियों, अधिवक्ताओं एवं कर्मचारियों ने भगवान हनुमान की अनुराधना कर प्रसाद ग्रहण किया। श्री हनुमान मंदिर के भक्त अनिल कूपर ने कहा कि हनुमानजी बुद्धि और बल के दाता हैं। उत्तरकांड में भगवान राम ने हनुमानजी को प्रज्ञा, धीर, वीर, राजनीति में निपुण आदि विशेषणों से संबोधित किया है। हनुमानजी बल और बुद्धि से संपन्न हैं। हनुमान को मनोकामना पूर्ण करने वाला देवता माना जाता है, इसलिए मन्नत मानने वाले अनेक स्त्री-पुरुष हनुमान की मूर्ति की श्रद्धापूर्वक निर्धारित प्रदक्षिणा करते हैं। उन्होंने कहा  मारुतिनंदन को चोला चढ़ाने से जहां सकारात्मक ऊर्जा मिलती है वहीं बाधाओं से मुक्ति भी मिलती है।
उल्लेखनीय है कि मिनी सचिवालय के आवासीय प्रांगण में स्थित श्री हनुमान मंदिर में एक सप्ताह पूर्व श्री हनुमान चालीसा का अखंड पाठ शुरू हुआ। पिछले सात दिनों से दिन-रात चले हनुमान चालीसा के पाठ के साथ हनुमान जयंती महोत्सव के दौरान जय दुर्गे यूजिकल गु्रप की ओर से राम भक्त हनुमान का संकीर्तन भी धूम-धाम से किया गया। सप्ताह भर के विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों के साथ हनुमान जयंती पर बड़ी सं या में पहुंचे श्रद्धालुओं ने मंदिर में पूजा-अर्चना के साथ शाम तक चले अटूट लंगर में प्रसाद ग्रहण किया।

Comments are closed.