सबसे बड़े चोर सूट पहनकर आते हैं – राहुल

नई दिल्ली  नरेन्द्र मोदी सरकार पर संप्रग सरकार द्वारा लाए गए भूमि अधिग्रहण विधेयक पर ‘कुल्हाड़ी’ चलाने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज कहा कि कांग्रेस ‘‘सूटबूट की सरकार को’’ किसानों की जमीन नहीं हड़पने देगी और संसद के भीतर यदि किसानों की बात नहीं सुनी गयी तो वह किसानों की लड़ाई लड़ने के लिए सड़कों पर उतरेगी। लोकसभा में विवादास्पद भूमि अधिग्रहण विधेयक पर चर्चा के दौरान राहुल गांधी न इस विधेयक को रोकने के पार्टी के प्रयासों के संबंध में कहा, ‘‘इस सरकार को विधेयक को पारित करने की जल्दी पड़ी है… यह इतनी आसानी से नहीं होगा। यदि हम यहां नहीं रोक पाए तो सड़क पर जाकर रोकेंगे।’’

राहुल गांधी ने कहा कि यह विधेयक लाकर इस सरकार ने किसान के गले पर कुल्हाड़ी चलायी है। उन्होंने कहा कि वित्त मंत्रालय ने एक आरटीआई के जवाब में बताया है कि जमीन के कारण 100 में से केवल आठ प्रोजेक्ट रूके हुए हैं। उन्होंने कहा कि जब केंद्र के पास जमीन है, राज्यों के पास जमीन है और सेज के तहत अधिग्रहित की गयी 40 फीसदी जमीन खाली पड़ी है तो सरकार किसान की जमीन छीनने पर क्यों अड़ी है? राहुल गांधी ने कहा, ‘‘सरकार किसानों की जमीन सांठगांठ वाले पूंजीपतियों और अपने औद्योगिक मित्रों को देना चाहती है क्योंकि यह सूटबूट की सरकार है।’’ उन्होंने कहा कि संप्रग सरकार को भूमि अधिग्रहण कानून को लाने में दो साल लगे थे लेकिन राजग सरकार ने कुछ ही दिनों के भीतर उस कानून की हत्या कर दी।

राहुल ने कहा, ‘‘सबसे पहली कुल्हाड़ी विधेयक की गर्दन पर सरकार ने उस समय चलायी जब उसने किसानों की सहमति वाले प्रावधान को खत्म किया। जब धड़ गिर गया तो उसने दूसरी बार कुल्हाड़ी चलायी और सामाजिक आकलन प्रभाव को खत्म कर दिया। और तीसरी कुल्हाड़ी तब चलायी जब सरकार ने यह कहा कि परियोजना शुरू नहीं होने पर जमीन किसान को लौटाने की जरूरत नहीं है।’’ कांग्रेस उपाध्यक्ष ने सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि सरकार बुंदेलखंड या राजस्थान के रेगिस्तान में जमीन अधिग्रहित नहीं करना चाहती बल्कि उसकी नजर नोएडा, गुड़गांव और पुणे जैसे बड़े शहरों के पास की जमीन पर है क्योंकि यहां जमीन की कीमतें बढ़ रही हैं। उन्होंने विधेयक की तुलना दिनदहाड़े डकैती से की और प्रस्तावित कानून के संबंध में कहा, ”एक अर्थशास्त्री ने मुझे बताया था कि चोर रात को 12 बजे आते हैं, छुपकर आते हैं, खिड़की से आते हैं लेकिन सबसे बड़े चोर सबके सामने आते हैं और सूट पहनकर आते हैं।’’ उन्होंने किसानों की जमीन के संदर्भ में कहा, ‘‘आपके पैरों के नीचे सोना है। ये लोग इस सोने को छीनना चाहते हैं।’’ भाजपा में शामिल होने से पूर्व कांग्रेस में रहे ग्रामीण विकास मंत्री बीरेन्द्र सिंह पर कटाक्ष करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि वह इस मुद्दे पर उनकी बात का समर्थन करते रहे हैं और जब संप्रग सरकार के शासनकाल में यह विधेयक पारित किया गया था तो मौजूदा गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उस समय विपक्ष में बैठ अपनी मेज थपथपाकर इसका स्वागत किया था।

 

Comments are closed.