विराट कोहली की कप्तानी पारी, श्रीलंका के खिलाफ क्लीन स्वीप

रांची। नियमित कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की गैरमौजूदगी के बावजूद टीम इंडिया ने जेएससीए अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में चल रहे सीरीज के पांचवें मैच में जीत दर्ज कर श्रीलंका के खिलाफ क्लीन स्वीप कर दिया है। कप्तान विराट कोहली ने सीरीज के इस अंतिम एकदिवसीय मैच में नाबाद शतकीय पारी खेली और टीम को शानदार जीत दिलाई। टीम इंडिया ने ये मुकाबला जीतकर वनडे रैंकिंग में नंबर वन की कुर्सी और मजबूत कर ली है। भारत ने जीत के लिए जरूरी 286 रन 7 विकेट खोकर 49वें ओवर में ही बना लिए। विराट कोहली 139 रन बनाकर नाबाद रहे।
इससे पहले कप्तान एंजेलो मैथ्यूज (139 नाबाद) और लाहिरु थिरिमाने (52) की बदौलत श्रीलंका ने शुरुआती झटकों से उबरते हुए भारत के सामने 287 रनों का लक्ष्य रखा। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका ने निर्धारित 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 286 रन बनाए। आखिरी दस ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंकाई बल्लेबाजों ने 114 रन बटोरे।
श्रीलंका के लिए 137 एकदिवसीय खेल चुके मैथ्यूज ने करियर का पहला शतक लगाया, जिसके लिए उन्हें 116 पारियों तक इंतजार करना पड़ा। उन्होंने 116 गेंदों की अपनी नाबाद शतकीय पारी में छह चौके और 10 छक्के लगाए।
एक समय केवल 85 रनों पर चार महत्वपूर्ण बल्लेबाज खोने वाली श्रीलंकाई टीम के लिए मैथ्यूज और थिरिमाने ने पांचवें विकेट के लिए 128 रनों की साझेदारी की और टीम को मुश्किलों से उबारा। इसके बाद मैथ्यूज ने थिसारा परेरा (6) के साथ भी मिलकर छठे विकेट के लिए महज 17 गेंदों में 45 रन बटोरे।
इससे पहले श्रीलंका की शुरुआत बेहद खराब रही और उसे पहला झटका 32 रनों पर लगा जब सलामी बल्लेबाज निरोशन डिकवेला केवल चार रन बनाकर पवेलियन लौट गए। उन्हें धवल कुलकर्णी ने अंबाती रायडू के हाथों कैच कराया।
जल्द ही तिलकरत्ने दिलशान (35) भी स्टुअर्ट बिन्नी की गेंद पर बोल्ड हो गए। दिनेश चांडिमल पांच रन बनाकर आउट हुए। इसके बाद पैर जमाते नजर आ रहे माहेला जयवर्धने (32) रविचंद्रन अश्विन की अंदर आती गेंद का शिकार हो गए जो उनके बल्ले को छू कर अजिंक्य रहाणे की हाथों में समा गई। भारत की ओर से कुलकर्णी सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने तीन विकेट हासिल किए। अक्षर पटेल और अश्विन को दो-दो जबकि बिन्नी को एक सफलता मिली।
पिछले चार मुकाबलों में भी भारत ने शानदार खेल दिखाया और सीरीज में उसके 5 बल्लेबाजों ने शतक जमाया। इसमें रोहित शर्मा की रिकॉर्डतोड़ 264 रन की पारी भी शामिल है। मेहमान टीम के लिए ये बड़ी निराशा की बात रही क्योंकि श्रीलंकाई टीम एक बार भी भारतीय दौरे पर वनडे सीरीज नहीं जीत पाई है। यहां भी निराशा ही हाथ लगी और अब तो उसे क्लीन स्वीप का सामना करना पड़ा।

 

Comments are closed.