लखवी की जमानत पर लोकसभा में नाराजगी

नई दिल्ली । कांग्रेस, भाजपा समेत विभिन्न दलों के सदस्यों ने मुम्बई पर 26/11 को हुए आतंकवादी हमले के षडयंत्रकारी लश्कर ए तैय्यबा के जकी उर रहमान लखवी को पाकिस्तान में जमानत दिए जाने का मुद्दा आज लोकसभा में उठाया। इस विषय पर कुछ सदस्यों ने कार्यस्थगन का नोटिस भी दिया था। विदेश मंत्री सोमवार को इस विषय पर सदन में बयान देंगी। अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने इस बारे में सदस्यों के नोटिस अस्वीकार करते हुए कहा कि इस विषय को वह शून्यकाल या अन्य अवसर पर उठाने का मौका देंगी।

आज सुबह सदन की कार्यवाही शुरू होने पर कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खडगे, भाजपा नेता किरिट सोमैया एवं कुछ अन्य सदस्यों ने इस विषय को उठाया। मल्लिकार्जुन खडगे ने कहा कि मुम्बई 26/11 आतंकी घटना के लिए जिम्मेदार आतंकी लखवी को पाकिस्तान में इसलिए जमानत मिली कि वहां के वकील ने ठीक से मामले की पैरवी नहीं की। उन्होंने इसे अत्यंत गंभीर मामला बताया। अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा कि उन्हें 2-3 कार्यस्थगन के नोटिस मिले हैं। प्रश्नकाल स्थागित नहीं किया जा सकता। वह सदस्यों को शून्यकाल या अन्य मौके पर बात रखने का अवसर देंगी।

संसदीय कार्य मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा कि सदस्यों ने जो विषय उठाया है, वह अत्यंत गंभीर है। इस विषय पर उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से बात की है। अभी देश में बांग्लादेश के राष्ट्रपति आये हुए हैं। मंत्री उस कार्यक्रम में हैं। उन्होंने कहा कि अगर सदस्य सरकार की प्रतिक्रिया चाहते हैं तब हम सोमवार को इस विषय पर बात रखेंगे।


Comments are closed.