भाजपा का अन्नाद्रमुक से नहीं होगा कोई गठबंधन: तमिलनाडु भाजपा

चेन्नई  तमिलनाडु विधानसभा चुनाव से करीब साल भर पहले प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने आज कहा कि उनकी पार्टी चुनाव के लिए सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक से गठजोड़ नहीं करेगी। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष टी सुंदरराजन ने कहा, ‘‘हम अन्नाद्रमुक का विरोध करते हैं और चुनाव के लिए हमारा उससे कोई गठबंधन नहीं होगा। हमारी पार्टी तमिलनाडु में आगामी वैकल्पिक ताकत है।” उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘हमारा रुख एक जैसा बना हुआ है। पिछले साल का नगर निकाय उपचुनाव हो या श्रीरंगम उपचुनाव, हमने सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक के खिलाफ लड़ा और यह जारी करेगा।” उन्होंने कहा, ‘‘कुछ लोग हमपर अपनी राय थोपने का प्रयास करते हैं कि भाजपा अन्नाद्रमुक से गठजोड़ करेगी, मैं ऐसी राय के लिए जिम्मेदार नहीं हूं।” सुंदरराजन ने कहा, ‘‘तमिलनाडु में हमारी पार्टी आगामी वैकल्पिक ताकत है और सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक एवं द्रमुक दोनों ही भ्रष्ट हैं तथा दोनों ही दलों ने श्रीरंगम उपचुनाव के दौरान मतदाताओं को रिझाने के लिए धनबल का इस्तेमाल किया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने हमेशा ही भ्रष्टाचार का विरोध किया है और हम उस रास्ते से नहीं भटकेंगे।’’ द्रमुक पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘यह बड़ी निराशाजनक है कि कलैगनार (द्रमुक प्रमुख करुणानिधि) यह धारणा बनाने का प्रयास कर रहे हैं कि जैसे केंद्र अन्नाद्रमुक प्रमुख जयललिता के खिलाफ चल रहे आय के ज्ञात स्रोत से अधिक की संपत्ति के मामले में न्यायपालिका को प्रभावित करने की कोशिश कर रहा हो। यह निंदनीय, बिल्कुल झूठ एव न्यायपालिका का अपमान है।’’ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने बताया कि उनकी पार्टी ने राज्य में मिस्ड कॉल अभियान से 33 लाख सदस्य बनाए हैं।

 

Comments are closed.