प्रशांत ने आम आदमी पार्टी के नेतृत्व पर किया पलटवार

  नयी दिल्ली आम आदमी पार्टी (आप) के विद्रोही नेता प्रशांत भूषण ने पार्टी की राष्ट्रीय अनुशासन समिति (एनडीसी) से उन्हें कारण बताओ नोटिस मिलने पर आज पार्टी नेता पर पलटवार किया। उन्होंने समिति के सदस्य पंकज गुप्ता पर संदिग्ध कंपनियों से चंदा लेने एवं आशीष खेतान पर एक कंपनी का पक्ष लेते हुए ‘पेड न्यूज’ स्टोरी करने का आरोप लगाया। नोटिस पर अपने जवाब में भूषण ने इस कदम पर सवाल उठाया और कहा कि गुप्ता एवं खेतान ने उन पर आरोप लगाए हैं एवं ऐसे परिदृश्य में वह दोनो इस मामले में ‘जज’ कैसे हो सकते हैं। एनडीसी ने 17 अप्रैल को भूषण को कारण बताओ नोटिस जारी किया था। इसमें आरोप लगाया गया था कि भूषण ने लोगों से पार्टी को चंदा नहीं देने को कहा। दिनेश वाघेला इस समिति के अध्यक्ष हैं जबकि गुप्ता और खेतान उसके सदस्य हैं। भूषण ने गुप्ता पर एनडीसी के कई फैसलों को लागू नहीं करने का आरोप लगाया। दो करोड़़ चंदा लेने के मामले का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस मामले को पार्टी के लोकपाल एडमिरल एल रामदास को भेजे जाने के बजाय उन्हें ही पद से बर्खास्त कर दिया गया।

 

Comments are closed.