कालाधन वालों को बचाने के प्रयास में विपक्षः केंद्र

नई दिल्ली । काले धन के मुद्दे को लेकर सरकार ने आज कांग्रेस तथा अन्य विपक्षी दलों पर पलटवार करते हुए कहा कि इस पर हंगामा करने वाले अब उन लोगों की ‘‘मदद’’ कर रहे हैं जिनके विदेशी बैंकों में अवैध धन है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा कि भाजपा की अगुवाई वाली सरकार ने विदेशों में जमा काले धन को वापस लाने की दिशा में काम शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा, ”हमारी कार्रवाई से परेशान लोग और कांग्रेस के लोग काला धन रखने वाले लोगों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं।’’ उन्होंने साथ ही कहा कि पिछली संप्रग सरकार ने उच्चतम न्यायालय के आदेश के बावजूद ढाई साल तक विशेष जांच दल का गठन नहीं किया जबकि भाजपा ने सत्ता संभालते ही ‘‘ढाई दिन में ’’एसआईटी का गठन कर दिया।

मंत्री ने दावा किया कि शीर्ष अदालत ने सरकार द्वारा एसआईटी को ताजा जानकारी उपलब्ध कराए जाने की सराहना की थी। विदेशी बैंक खातों में काला धन रखने वालों के नामों का खुलासा किए जाने की मांग को खारिज करते हुए जावडेकर ने कहा कि इससे अन्य देश भारत को और अधिक सूचना देने से पीछे हट जाएंगे। संसद के शीत सत्र के पहले दिन आज लोकसभा में काले धन के मुद्दे को लेकर काफी हंगामा हुआ और विपक्षी दलों ने सरकार से काले धन को वापस लाने के वादे को पूरा करने की मांग की।

सुबह सदन की बैठक शुरू होते ही तृणमूल कांग्रेस सदस्य काले रंग के छाते खोलकर आसन के सामने आ गए और नारेबाजी करने लगे। इन छातों पर लिखा था, ”काला धन वापस लाओ।’’ कुछ ही देर में कांग्रेस, राजद, आप और समाजवादी पार्टी के सदस्य भी आसन के समक्ष आकर इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से जवाब दिए जाने की मांग करने लगे।


Comments are closed.