बसपा सहित तीन पार्टियों का स्कूल फीस आन्दोलन को समर्थन

बसपा सहित तीन पार्टियों नें दिया समर्थन स्कूल फीस आन्दोलन कोभगत सिंह जयंती पर “भारत-बंद” के समर्थन में आये कई संगठन28 सितम्बर को “भारत-बंद” का किया है एलान भारत अभिभावक संघ नें मांग: आनलाइन पढ़ाई, तो आनलाइन की फीस तय हो.... नो

किश्त स्थगन के लिए कर्जदारों को दंडित नहीं कर सकते: न्यायालय

"उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को कहा कि बैंक ऋण पुनर्गठन के लिए स्वतंत्र हैं" मन्नत, अपनी पत्रिका नयी दिल्ली, उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को कहा कि बैंक ऋण पुनर्गठन के लिए स्वतंत्र हैं, लेकिन वे कोविड-19 महामारी के दौरान किश्तों को स्थगित

नया बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं तो करें क्लाउड किचन में इन्वेस्ट, चुनें अपना रेस्टॉरेंट ब्रांड

ब्यूरो, अपनी पत्रिका कोरोना काल में हॉस्पिटैलिटी और रेस्टॉरेंट बिज़नेस भी खासा प्रभावित हुआ लेकिन ऑनलाइन रेस्टोरेंट्स और विशेषकर क्लाउड किचन का कांसेप्ट इन दिनों उभर कर सामने आ रहा है। विशेषज्ञ मानते हैं कि आने वाला समय इसी मॉडल का है और

पेगासस जासूसी कांड में राहुल गांधी ने की न्यायिक जांच की मांग, कहा इस्तीफा दें गृहमंत्री

नेहा राठौर पेगासस का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। हर दिन इस पर विवाद बढ़ता ही जा रहा है। शुक्रवार को राहुल गांधी ने पेगासस मामले में बोलते हुए दावा किया कि उनका फोन टैप किया गया है। उन्होंने कहा कि पेगासस एक ऐसा हथियार है जिसे

यूपी- आगामी विधानसभा चुनाव में जानिये क्या है बीजेपी की ‘सॉफ्ट सेकुलरिज्म’ रणनीति

नेहा राठौर उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है। ऐसे में सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की नीति लिए बीजेपी भी समाज के एक बड़े वर्ग का विश्वास जीतकर चुनावी विजय के हिमालय पर पहुंचने की

लगातार बारिश हुई असहनिय…

प्रियंका आनंद काफी समय के बाद ही सही दिल्लीवासियों को तपती गरमी से आखिर राहत मिल ही गई। झमाझम बारिश से ना केवल मौसम में ठंडक आई है बल्कि लोगों को भी सुकुन का अनुभव हुआ है। बीती रात से दिल्ली एनसीआर में लगातार बारिश हो रही है जिसकी पहले

सम्पूर्ण हिन्दू धर्म की श्रद्धा, आस्था और भक्ति का केंद्र बनेगा कुलदेवी आद्य महालक्ष्मी जी का मंदिर…

संवाददाता अग्रोहा शक्तिपीठ में बनने वाले महालक्ष्मी एवं अष्टलक्ष्मी के मंदिर निर्माण का भूमि पूजन समारोह भव्यता पूर्वक संपन्न-देशभर से पधारे अग्रवाल-वैश्य समाज के गणमान्य बंधुयों ने अपने हाथों से एक-एक ईंट का पूजन करके मंदिर की नींव